राम मंदिर दान: भिखारियों ने दिया चंदा, तो इससे प्रेरित होकर मुस्लिम युवक भी आए आगे, पेश की एकता की मिसाल

By Reeta Tiwari | Posted on 5th Feb 2021 | देश
ram mandir, ram mandir donation

अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण बनने का सपना लोग दशकों से देखते हुए आ रहे थे। उन करोड़ों लोगों को ये सपना अब आखिरकार पूरे होने जा रहा है। अगले कुछ ही सालों में अयोध्या में राम मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा। राम मंदिर का भूमिपूजन हो चुका है और अब इसके निर्माण का कार्य चल रहा है। साथ ही साथ राम मंदिर निर्माण के लिए देशभर से चंदा इकट्ठा करने का काम जारी है।

राम मंदिर के लिए लोग बढ़-चढ़कर दान करते हुए नजर आ रहे हैं। झारखंड में भिखारियों ने भी राम मंदिर निर्माण के लिए अपना योगदान दिया। झारखंड के रामगढ़ जिला मुख्यालय स्थित लेप्रोसी कॉलोनी के भिखारियों ने भी 2425 रुपये एकत्रित करके राम मंदिर के लिए समर्पित किए। सिर्फ यही नहीं इससे प्रेरित होकर एक मुस्लिम युवक ने भी मंदिर निर्माण के लिए दान देकर एकता की मिसाल पेश की।

लेप्रोसी कॉलोनी की एक महिला सरस्वती देवी भीख मांगकर और कचड़ा चुनकर अपना गुजारा करती हैं। लेकिन जब राम मंदिर निर्माण के लिए योगदान देनी की बात आई, तो इसमें उन्होनें भी अपना योगदान देने का फैसला लिया। वहीं भीख मांगकर जिंदगी चलाने वाले लेप्रोसी कॉलोनी निवासी जीतू महतो ने भी भगवान राम के लिए अपनी आस्था को दिखाते हुए राम मंदिर के लिए 1 हजार रुपये का दान दिया।

वहीं जब एक मुस्लिम युवक जिनका नाम गुलाब सिंह है, उन्होनें लेप्रोसी कॉलोनी के रहने वाले लोगों की भगवान राम के प्रति आस्था को देखा, तो वो भी मंदिर निर्माण में अपना योगदान देने के लिए आगे आए। इससे प्रेरित होकर उन्होनें मंदिर निर्माण समिति को चंदा दिया।

रामगढ़ के लेप्रोसी कॉलोनी में दान लेने गए मंदिर निर्माण समिति के सदस्यों और पदाधिकारियों ने कहा कि समाज का हर वर्ग राम मंदिर के लिए बढ़-चढ़कर दान कर रहा है। सभी का यही सपना है कि वो भव्य राम मंदिर के सपने को साकार होते देखे।

गौरतलब है कि करोड़ों लोगों का सपना अयोध्या में राम मंदिर बनते हुए देखने का था। दशकों तक राम मंदिर के लिए लड़ाई चली। इस आंदोलन में कई लोगों ने अपनी जान भी गंवाई। राम मंदिर का मुद्दा सालों तक राजनीति में छाया रहा। लंबे समय तक कानूनी लड़ाई चली और 9 नवंबर 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने इस पर ऐतिहासिक फैसला सुनाया। जिसके बाद 5 अगस्त 2020 को राम मंदिर का भव्य भूमि पूजन हुआ। अब अगले कुछ ही सालों में ये मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा।

Reeta Tiwari
Reeta Tiwari
रीटा एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रीटा पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रीटा नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

अन्य

लाइफस्टाइल

© 2020 Nedrick News. All Rights Reserved. Designed & Developed by protocom india