'The Kashmir Files' पर हुआ बवाल, बताया गया वल्गर और प्रोपेगेंडा फिल्म

By Reeta Tiwari | Posted on 29th Nov 2022 | बॉलीवुड
The Kashmir Files

फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' हुई आलोचना का शिकार 

भारत के कश्मीरी पंडितों पर बनी फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' (The Kashmir Files) इस समय चर्चा का विषय बनी हुई है और ये चर्चा इस फिल्म को लेकर हुए विवाद को लेकर है. दरअसल, फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' को इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया (IFFI) के मंच पर आलोचना का शिकार हुई है. जिसकी वजह से ये फिल्म इस समय चर्चा का विषय बनी हुई है.

Also Read- फिल्म Cirkus के दूसरे टीजर में हुई ट्रेलर की अनाउंसमेंट, जानिए क्या होगी फिल्म की कहानी.

फिल्म को बताया गया अश्लील और प्रोपेगेंडा

जानकारी के अनुसार, पणजी में आयोजित इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया (IFFI-2022) के जूरी हेड और इजराइली फिल्म मेकर नदाव लैपिड (Nadav Lapid) ने इस फिल्म को अश्लील और प्रोपेगेंडा बताया है। IFFI के जूरी हेड नादव लपिड ने समारोह के समापन पर द कश्मीर फाइल्स को वल्गर और प्रोपेगेंडा फिल्म बताया है. इसी के साथ उन्होंने ये भी कहा है कि यह फिल्म परेशान कर देने वाली है. इसी के साथ नदाव ने ये भी कहा कि हम सभी डिस्टर्ब हैं कि ऐसी फिल्म को इस समारोह में दिखाया गया है। यह फिल्म बेहद ही वल्गर है। हालांकि ज्यूरी बोर्ड ने खुद को टिप्पणी से किनारा करते हुए इसे व्यक्तिगत राय बताया है।


फिल्म मेकर और एक्टर अनुपम खेर  ने किया विरोध

वहीं IFFI के जूरी हेड के इस बयान पर एक्टर अनुपम खेर और फिल्ममेकर अशोक पंडित ने कड़ा विरोध जताया है। फिल्ममेकर अशोक पंडित ने नदाव की टिप्पणी पर आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि कश्मीर फाइल्स को अश्लील नहीं कहा जा सकता है। वहीं, अनुपम खेर ने tweet करके लिखा- झूठ का कद कितना भी ऊंचा क्यों न हो, सत्य के मुकाबले में हमेशा छोटा ही होता है।

इजरायल ने की कड़ी आलोचना

इजरायल एम्बेंसी ने इस टिप्पणी की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि भारतीय संस्कृति में कहा जाता है कि अतिथि भगवान के समान होता है। आपने जजों के पैनल की अध्यक्षता करने के भारतीय निमंत्रण का सबसे खराब तरीके से दुरुपयोग किया है। भारत में इस्राइल के राजदूत नाओर गिलोन ने माफी मांगते हुए ट्वीट किया, ‘भारत और इस्राइल, दोनों देशों और यहां के लोगों के बीच दोस्ती बहुत मजबूत है। आपने जो नुकसान पहुंचाया है, वह ठीक हो जाएगा। एक इंसान के रूप में मुझे शर्म आती है और हम अपने मेजबानों से उस बुरे तरीके के लिए माफी मांगना चाहते हैं कि हमने उनकी उदारता और दोस्ती के बदले यह दिया है।’


इंडियन पैनोरमा सेक्शन का हिस्सा थी ये फिल्म

भरता में फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स'  फिल्म 11 मार्च को सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी और ये फिल्म इंडियन पैनोरमा सेक्शन का हिस्सा थी और 22 नवंबर को प्रदर्शित की गई थी। इस फिल्म में पाकिस्तान समर्थित आतंकवादियों द्वारा समुदाय विशेष के लोगों की हत्याओं के बाद कश्मीर से कश्मीरी हिंदुओं के पलायन को दिखाया गया है। साथ ही कश्मीरी हिंदुओं को इस दौरान क्या-क्या परेशानी आई ये सब भी दिखाया गया है. वहीं इस फिल्म में सेक्शन 370 को खत्म करने को जिक्र किया गया है. वहीं इस फिल्म में अनुपम खेर, दर्शन कुमार, मिथुन चक्रवर्ती और पल्लवी जोशी ने अभिनय किया है। अनुपमर खेर 22 नवंबर को 53वें IFFI में फिल्म की विशेष स्क्रीनिंग में शामिल हुए थे। 9 दिवसीय फिल्म महोत्सव 20 नवंबर से शुरू हुआ था।

Also Read- भारत के शहीद जवानों का ऋचा चड्ढा ने उड़ाया मजाक, बवाल होने के बाद मांगी माफ़ी.

Reeta Tiwari
Reeta Tiwari
रीटा एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रीटा पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रीटा नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

Leave a Comment:
Name*
Email*
City*
Comment*
Captcha*     8 + 4 =

No comments found. Be a first comment here!

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2022 Nedrick News. All Rights Reserved.