पीएम मोदी पर क्यों लगा "देश का अपमान" करने का आरोप? वायरल हुआ 2015 का ये पुराना वीडियो!

By Ruchi Mehra | Posted on 19th Nov 2021 | वायरल खबरें
vir das, pm modi

सोशल मीडिया पर इस वक्त कॉमेडियन वीर दास काफी विवादों में घिरे है। पूरा विवाद उनकी एक कविता को लेकर हो रहा है, जो उन्होंने अमेरिका के वॉशिंगटन डीसी में एक शो में पढ़ी थी। कविता का नाम था Two Indians। इसमें कॉमेडियन वीर दास ने वैसे तो भारत के डबल फेस यानी दोहरे चरित्र को दिखाने की कोशिश की, लेकिन इस दौरान उन्होंने जो बातें कही उस पर एक बहुत बड़ा विवाद खड़ा हो गया। बहुत बड़ी संख्या में लोग वीर दास की कविता की जमकर आलोचना कर रहे है। 

वीर दास की कविता पर बवाल जारी

इसके लिए वीर दास खासतौर पर सत्ताधारी बीजेपी के निशाने पर बने हुए है। सिर्फ इतना ही नहीं कॉमेडियन के खिलाफ शिकायतें तक कई कई जगहों पर दर्ज करा दी गई। लोग उन्हें इसके लिए 'देशद्रोही' तक कहते नजर आ रहे हैं। लोग कह रहे है कि वीर दास ने विदेश में भारत का अपमान किया। 

पीएम मोदी का पुराना वीडियो वायरल

जहां कई लोग इस वक्त वीर दास को जमकर निशाने पर ले रहे हैं, तो इसी बीच सोशल मीडिया पर एक और वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है। ये वीडियो किसी और का नहीं बल्कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का है। दरअसल, मोदी विरोधी लोग वीडियो को शेयर करते पीएम को निशाने पर ले रहे। इसको लेकर वो कह रहे हैं कि अगर वीर दास ने विदेश में भारत का अपमान किया है, तो पीएम मोदी ने भी तो ऐसा ही किया था। 

जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, वो साल 2015 का सूडान का बताया जा रहा है। वीडियो में पीएम मोदी सियोल में मौजूद भारतीय समुदाय को संबोधित कर रहे होते हैं। इस दौरान वो पहले के और अब के भारत की तुलना करते हुए ये भी कहते हैं कि पहले लोग ये सोचते थे कि उन्होंने ऐसा कौन सा पाप किया, जो उनका जन्म भारत में हुआ। इस वीडियो को लेकर ही मोदी विरोधी लोग प्रधानमंत्री को निशाने पर ले रहे हैं और इसे देश का अपमान कर रहे है। 

क्या कहा था तब पीएम मोदी ने?

दरअसल, इस दौरान पीएम सियोल में मौजूद भारतीयों को देश वापस लौटने के लिए प्रेरित कर रहे होते हैं। वो कहते हैं- "एक समय था, जब लोग..यार..पता नहीं पिछले जन्म में क्या पाप किया था, हिंदुस्तान में पैदा हुए। ये कोई देश है, ये कोई सरकार है, ये कोई लोग है...चलो छोड़ों चले जाएं कही ओर...और लोग निकल पड़ते थे। कुछ वर्षों में तो हम ये भी देखते थे कि उद्योग जगत के लोग कहते थे कि अब तो यहां व्यापार नहीं चलता। यहां नहीं रहना। कई लोगों ने तो एक पैर बाहर रख भी दिया था। लेकिन आज मैं विश्वास से कह सकता हूं कि अलग अलग जीवन के गणमान्य लोग, बड़े-बड़े साइंटिस्ट क्यों ना हो, विदेशों में कितनी ही कमाई क्यों ना होती है। उससे कम कमाई होती हो तो भी, आज भारत वापस आने के लिए उत्सुक हो रहे हैं, उत्साहित हो रहे है।"

वीर दास की कविता पर क्यों हो रहा विवाद?

पीएम मोदी के सालों पुराने इसी संबोधन को लेकर लोग उन्हें निशाने पर ले रहे हैं। बात वीर दास की कविता की करें तो कॉमेडियन अपनी कविता में कहते हैं कि मैं उस भारत से आता हूं... जहां AQI 9000 है, फिर भी हम अपनी छतों पर लेटकर रात में तारें गिनते हैं। मैं उस भारत से आता हूं... जहां दिन में स्त्रियों की पूजा की जाती है और रात में उनके साथ गैंगरेप होता है। मैं उस भारत से आता हूं... जहां हम Vegetarian होने पर गर्व महसूस करते हैं, लेकिन उन किसानों को ही कष्ट देते हैं।' कॉमेडियन की इस कविता को लेकर सोशल मीडिया पर हंगामा बरपा हुआ है और कई लोग उन्हें देश विरोधी तक बताते नजर आ रहे है। इस मामले पर विवाद अब तक थमा नहीं है। 

Ruchi Mehra
Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2020 Nedrick News. All Rights Reserved. Designed & Developed by protocom india