'इस लॉजिक से तो...', रिहाना का विरोध करने वालों को SRH खिलाड़ी संदीप शर्मा ने दिखाया आईना, लेकिन फिर...

By Ruchi Mehra | Posted on 4th Feb 2021 | स्पोर्ट्स
cricketer sandeep sharma, sandeep sharma tweet in rihanna support

रिहाना समेत कई इंटनेशनल सेलब्रिटीज के किसान आंदोलन के मुद्दे पर कूदने को लेकर सोशल मीडिया पर संग्राम थमने का नाम नहीं ले रहा। इसको लेकर लगातार बहस छिड़ी हुई हैं। पॉप स्टार रिहाना की किसानों के समर्थन में किए गए ट्वीट के बाद कई बॉलीवुड के सितारे भी सामने आए, जिसमें अजय देवगन, अक्षय कुमार जैसे कई नाम शामिल थे। इन लोगों ने ट्वीट कर भारत के खिलाफ चल रहे विदेशी प्रोपेगेंडा के खिलाफ एकजुट होकर लोगों से लड़ने की अपील की।

विराट-सचिन समेत कई खिलाड़ियों ने भी किया ट्वीट

कई सितारों ने इशारों-इशारों में ये कह दिया कि रिहाना और बाहर के सेलिब्रिटीज को भारत के मामले में दखल नहीं देना चाहिए। सिर्फ बॉलीवुड के सितारे ही नहीं खेल जगत के भी तमाम बड़े चेहरे जिसमें सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली और रोहित शर्मा जैसे नाम शामिल, उन्होनें भी इस मुद्दे पर ऐसा ही ट्वीट किया।

संदीप शर्मा ने रिहाना को किया सपोर्ट

लेकिन इस बीच एक क्रिकेटर ने इस पूरे मुद्दे पर ऐसा ट्वीट कर दिया, जो काफी वायरल हो रहा है। उस खिलाड़ी का नाम हैं संदीप शर्मा। संदीप का ये ट्वीट रिहाना समेत उन तमाम इंटनेशनल सेलब्रिटीज के समर्थन में था, जिन्होनें किसान आंदोलन के समर्थन में अपनी आवाज उठाई। IPL में संदीप सनराइर्स हैदराबाद की टीम से खेलते हैं। उन्होनें किसान आंदोलन से जुड़े मुद्दे को लेकर एक तस्वीर जिसमें नोट लिखा था, वो ट्वीट किया, लेकिन कुछ देर बाद ही अपनी इस ट्वीट को डिलीट भी कर दिया।

वायरल हो रही संदीप की ये ट्वीट

भले ही संदीप ने अपनी उस ट्वीट को डिलीट कर दिया, लेकिन इसका स्क्रीनशॉट वायरल हो गया। इस ट्वीट में एक नोट शेयर करते हुए संदीप ने लिखा था- 'इस लॉजिक से तो किसी को भी किसी की परवाह नहीं करनी चाहिए। क्योंकि हर मामला किसी का किसी का अंदरूनी होता है।'

संदीप ने इन देशों के उदाहरण देकर कही ये बात

इसके साथ ही जो नोट संदीप ने इस ट्वीट में शेयर किया था, उसमें लिखा- 'रिहाना ने ये अपील की कि भारत के किसानों का समर्थन करें। भारत के विदेश मंत्रालय समेत तमाम सितारों ने पॉप स्टार की आलोचना की क्योंकि उन्होनें भारत के आंतरिक मामले में दखल दिया।' इस दौरान संदीप ने जर्मनी, पाकिस्तान समेत कई देशों का उदाहरण देते हुए कहा कि फिर तो किसी को भी दूसरे देशों अंदरूनी मामलों में भी नहीं बोलना चाहिए था।

संदीप ने इस नोट में आगे लिखा था- 'जर्मनी के बाहर के लोगों को वहां पर ज्यूज पर हुए अत्याचारों को लेकर कुछ नहीं कहना चाहिए था। पाकिस्तान में हिंदु, सिख और ईसाई पर होने वाले अत्याचारों पर कुछ नहीं बोलना चाहिए। इस लॉजिक से तो 1984 में हुए सिख दंगों पर चुप रहना चाहिए था। नस्लवाद को लेकर अमेरिका के बाहर के लोगों को खामोश रहना था। इस हिसाब से चीन में मुसलमानों पर हो रहे अत्याचारों पर भी चुप ही रहना चाहिए। दक्षिण अफ्रीफा में ब्लैक्स के वोट के हक पर नहीं बोलना चाहिए। बरमा के बाहर रोहिंग्या पर नहीं किसी को नहीं कुछ कहना चाहिए। ये सब भी किसी ना किसी देश के अंदरूनी मामले ही हैं।'

संदीप के ये ट्वीट करते ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। लेकिन कुछ देर बाद ही उन्होनें इसे डिलीट कर दिया। हालांकि अब संदीप की ट्वीट का स्क्रीनशॉट खूब वायरल हो रहा है और कई लोग ये सब बोलने के लिए संदीप की तारीफ भी करते हुए नजर आ रहे हैं।

Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।
© 2020 Nedrick News. All Rights Reserved. Designed & Developed by protocom india