ICC गाइडलाइन: अब पूरी तरह से बदल जाएगा क्रिकेट, खिलाड़ियों-अंपायरों को इन नियमों का करना होगा पालन!

By Reeta Tiwari | Posted on 23rd May 2020 | स्पोर्ट्स
ICC rules, Coronavirus Pandemic

कोरोना वायरस का असर हर तरफ देखने को मिल रहा है. क्रिकेट भी इससे काफी प्रभावित हुआ है. बीते 2 महीनों से ज्यादा समय से कोई भी अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला गया है. लेकिन अब ये बात हर कोई जानता है कि कोरोना वायरस लंबे समय तक रहने वाली बीमारी है. WHO भी ये बात कह चुका है कि लोगों को इस वायरस के साथ रहकर जीना होगा क्योंकि लंबे समय तक सबकुछ बंद नहीं किया जा सकता.

लगभग हर देश में धीरे-धीरे आम जनजीवन पटरी पर आने लगा है. हालातों में सुधार आने के बाद क्रिकेट भी दोबारा से शुरु किया जाएगा. हालांकि कोरोना की वजह इसमें कई बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे. इसी को ध्यान में रखते हुए क्रिकेट का आयोजन दोबारा शुरु होने से पहले इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने गाइडलाइन जारी कर दी है. गाइडलाइन में घरेलू क्रिकेटरों से लेकर इंटरनेशनल खिलाड़ियों की ट्रेनिंग, खेल, यात्रा और वायरस से सुरक्षा संबंधी सभी दिशा-निर्देश शामिल हैं.

4 चरणों में ट्रेनिंग शुरु करने की दी सलाह

ICC ने खिलाड़ियों को चार चरणों में ट्रेनिंग शुरु करने की सलाह दी है. पहले चरण में खिलाड़ियों को अकेले ट्रेनिंग शुरू करनी होगी. तो वहीं दूसरे फेज में 3 या उससे कम खिलाड़ियों के साथ ट्रेनिंग कर सकते है. तीसरे चरण में 10 से कम खिलाड़ी अपने कोच के संग ट्रेनिंग कर पाएंगें. तो वहीं चौथे चरण में टीमें पूरे खिलाड़ियों के साथ ट्रेनिंग कर पाएंगी. हालांकि इस दौरान खिलाड़ियों को एक-दूसरे को छूने से बचना होगा.

ये हैं ICC के अहम नियम

– ICC ने सभी इंटरनेशनल टीमों को ट्रेनिंग के लिए चीफ मेडिकल अफसर को नियुक्त करने को कहा है, जिसको सरकार के सभी नियमों का पालन कराना होगा.

– अब गेंद चमकाने के लिए लार का इस्तेमाल पर बैन होगा.

– ट्रेनिंग से पहले और बाद दोनों समय सभी इक्विपमेंट को सेनिटाइज करना अनिवार्य होगा.

– खिलाड़ियों को गेंद का इस्तेमाल करते समय हाथों को बार-बार सेनिटाइज करना होगा.

– अब खिलाड़ियों को एक-दूसरे का सामान रखने से बचना होगा.

– प्रैक्टिस के दौरान भी खिलाड़ियों को सोशल डिस्टेंसिंग से जुड़े सभी नियमों का पालन करना होगा.

– अब अंपायरों को गेंद पकड़ने के लिए ग्लव्स का इस्तेमाल करना होगा.

– खिलाड़ियों को स्टेडियम में तैयार होने की जगह घर से ही तैयार होने की सलाह दी गई है, जिससे कॉमन फैसिलिटी का इस्तेमाल ना करना पड़े.

–  प्रैक्टिस के दौरान खिलाड़ी टॉयलेट नहीं जा पाएंगे.

– जश्न मनाने के लिए खिलाड़ियों को एक-दूसरे के संपर्क में आने से बचना होगा.

– एक-दूसरे की पानी की बोतेल, टॉवल आदि के इस्तेमाल पर भी रोक रहेगी.

– मैच के समय अपनी कैप, सनग्लासेस और तौलिया अंपायर या फिर किसी दूसरे साथी को नहीं दे सकेंगे.

– ट्रेनिंग और मैच के दौरान खिलाड़ियों के टेस्ट होगा और उनका टेंपरेटर की भी जांच की जाएगी.

– सभी टीमों को अपने और दूसरे देश की यात्रा के सभी नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा. वहां सेल्फ आइसोलेशन, क्वारंटीन के नियमों को मानना होगा. यात्रा के समय सोशल डिस्टेंसिंग और सफाई का भी खास ध्यान रखना होगा. हो सके तो यात्रा के लिए विशेष विमानों का प्रयोग करें.

– खिलाड़ियों के लिए होटल का एक पूरा फ्लोर बुक करें और सभी खिलाड़ियों को अलग-अलग कमरा दे. इसके अलावा होटल के खाने के स्तर का भी विशेष ध्यान रखा जाए.

Reeta Tiwari
Reeta Tiwari
रीटा एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रीटा पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रीटा नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2020 Nedrick News. All Rights Reserved. Designed & Developed by protocom india