अपने फटे पोस्टर की फोटो शेयर कर डॉ. सपना बंसल बोलीं- घबराएं हुए हैं मेरे प्रतिद्विंदी, मैं सही रास्ते पर हूं...

By Ruchi Mehra | Posted on 17th Dec 2021 | राजनीति
dr. sapna bansal, sahibabad

डॉ. सपना बंसल गाजियाबाद की राजनीति में महिलाओं का प्रतिनिधित्व करने जा रही हैं। वो यूपी चुनावों में साहिबाबाद विधानसभा से अपनी किस्मत आजमा सकती है। इस क्षेत्र से सपना बंसल प्रबल दावेदारी पेश कर रही हैं। चुनावों को लेकर सपना बंसल एक्टिव मोड़ में आ गई हैं। वो इन दिनों तमाम कार्यक्रमों में हिस्सा लेती हुई नजर आ रही हैं। हालांकि इस बीच सपना बंसल ये भी आरोप है कि राजनीति में एंट्री से उनके विरोधी घबराए हुए हैं और इसलिए ही वो उनके पोस्टर्स फाड़ रहे हैं। 

दरअसल, डॉ. सपना बंसल ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक तस्वीर पोस्ट कर विरोधियों पर निशाना साधा। तस्वीर में उनके फटे हुए पोस्टर्स जमीन पर पड़े नजर आ रहे थे। इन्हें शेयर करते हुए उन्होंने कहा- 'ये पोस्टर कहानी बयां कर रहे हैं कि प्रतिद्वंदी कितने घबराए हुए हैं। स्वामी विवेकानंद ने कहा था यदि आप किसी मार्ग में चल रहे हैं और उस मार्ग में रुकावटें नहीं आ रही है तो समझ लेना कि आप सही रास्ते पर नहीं हो। मेरे रास्ते की सभी रुकावटें, कठिनाइयां और संघर्ष बता रहे हैं कि मैं सही रास्ते पर हूं।'

गौरतलब है कि इससे पहले भी एक कार्यक्रम में डॉ. सपना बंसल ने ऐसा ही कुछ कहते हुए अपने विरोधियों को निशाने पर लिया था। दरअसल, हाल ही में वो वैश्य समाज ने एक कार्यक्रम का हिस्सा बनी थीं। इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डॉ. सपना बंसल ने कहा था कि विरोधी मेरे हार्डिंग और पोस्टर्स को फाड़ रहे है, लेकिन मैं उनको कहूंगी कि अगर आप मेरा एक पोस्टर फाड़ोगे, तो मैं 10 लगाऊंगी।  तुम 10 भी फाड़ दोगे, तो लोगों के दिलों में बसी डॉ सपना बंसल को कैसे निकाल पाओगे? पोस्टर फाड़ने से लोगों के दिलों से नहीं निकाला जा सकता। मैं मातृशक्ति की आवाज बनकर आ रही हूं। इन धमकियों से मैं डरने वाली नहीं हूं। 

बता दें कि डॉ. सपना बंसल बताती हैं कि वो गाजियाबाद की राजनीति में महिलाओं का नेतृत्व करना चाहती हैं। वो चाहती हैं कि महिलाओं की राजनीति में भागीदारी बढ़े। डॉ. बंसल का मानना है कि महिला प्रतिनिधियों की हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए आरक्षण एक महत्त्वपूर्ण कदम साबित हो सकता है। महिलाओं को लोकसभा और सभी राज्यों की विधानसभाओं में 50 प्रतिशत आरक्षण दिए जाने की जरूरत है। 

Ruchi Mehra
Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

Leave a Comment:
Name*
Email*
City*
Comment*
Captcha*     8 + 4 =

No comments found. Be a first comment here!

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2022 Nedrick News. All Rights Reserved.