वाजपेयी जी के पुराने भाषण की वीडियो शेयर कर Varun Gandhi ने BJP को क्या सीख दी?

By Ruchi Mehra | Posted on 14th Oct 2021 | देश
varun gandhi, farmers protest

किसान आंदोलन का मुद्दा बीते करीब 10-11 महीनों से लगातार सुर्खियों में छाया हुआ है। सरकार और किसान दोनों ही अपनी अपनी बातों पर अडिग है। इस आंदोलन के दौरान कुछ ना कुछ ऐसा हो रहा है, जिसके चलते देशभर में बवाल मचा हुआ है। अब हाल ही में हुए लखीमपुर कांड को लेकर राजनीति अपने चरम पर है। 

किसानों के सपोर्ट में वरुण गांधी

इस पूरे मुद्दे को लेकर विपक्षी पार्टियां केंद्र और राज्य की योगी दोनों ही सरकार पर हमलावर हैं। वहीं इस बीच बीजेपी के एक सांसद भी लगातार अपनी ही पार्टी के विरोध में उतरे हुए नजर आ रहे हैं। जी हां, हम बात पीलीभीत से सांसद वरुण गांधी की ही कर रहे हैं। 

अब शेयर की ये वीडियो

वरुण गांधी कुछ समय से अपनी ही पार्टी के खिलाफ हो रहे हैं। वो किसानों के समर्थन में खड़े होकर अपनी सरकार के खिलाफ बोलते नजर रहे हैं। ऐसा ही कुछ एक बार फिर वरुण गांधी करते नजर आए। गुरुवार को उन्होंने एक वीडियो अपने शेयर की, जिसके जरिए इशारों-इशारों में अपनी ही सरकार को बड़ी सीख देने की कोशिश कीं। 

वरुण गांधी ने जो वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर डाली, वो पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की हैं। वीडियो तब की है जब वाजपेयी जी विपक्ष में हुआ करते थे। तब एक भाषण देते हुए उन्होंने सरकार को चेतावनी दी थीं। 

भाषण में वाजपेयी जी कहते नजर आ रहे हैं- "मैं सरकार को चेतावनी देना चाहता हूं दमन के तरीके छोड़ दीजिए। हमें डराने की कोशिश ना करें। किसान डरने वाला नहीं हैं। हम किसानों के आंदोलन का राजनीति के लिए इस्तेमाल नहीं करना चाहते। लेकिन हम किसानों की उचित मांग का समर्थन करते हैं और अगर सरकार दमन20करेगी, कानून का दुरुपयोग करेगी, शांतिपूर्ण आंदोलन को दबाने की कोशिश करेगी...तो किसानों के समर्थन में कूदने में हम संकोच नहीं करेंगे। हम कंधे से कंधा मिलाकर खड़े रहेंगे।"

बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने वीडियो शेयर करते हुए अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा- 'एक बड़े दिल के नेता द्वारा कही गई बुद्धिमानी की बात।'

वरुण गांधी ने इस वीडियो को अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट कर एक बार फिर से किसानों के मुद्दे को लेकर अपना स्टैंड क्लीयर करने की कोशिश की। उन्होंने वीडियो के जरिए बताना चाहा कि वो इस मुद्दे को लेकर किसानों के समर्थन में खड़े हैं। 

लखीमपुर को लेकर भी अपनी ही सरकार को घेरा था

वरुण गांधी लगातार किसानों के हक में आवाज बुलंद करते आए हैं। लखीमपुर में हुई हिंसा को लेकर भी वरुण गांधी ने ट्वीट किया था और इस मामले में सख्त सजा की मांग की थीं। ऐसा माना गया कि वरुण गांधी को यूं पार्टी के अलग बोलने के चलते ही उनको और मेनका गांधी को बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी से हाल में ही हटाया गया। 

इसके अलावा खबरें तो ये भी सामने आती रहती हैं कि जल्द ही वरुण और मेनका गांधी जल्द ही बीजेपी का साथ छोड़ भी सकते हैं। हालांकि वो दोनों ही इस तरह की खबरों को खारिज करते हैं। लेकिन फिर भी ऐसा माना जा रहा है कि पार्टी और उनके बीच सबकुछ ठीक ठाक नहीं चल रहा। 

Ruchi Mehra
Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2020 Nedrick News. All Rights Reserved. Designed & Developed by protocom india