कुतुब मीनार में मूर्तियां होने का दावा, साकेत कोर्ट में आज सुनवाई, जानें पूरा मामला...

By Ruchi Mehra | Posted on 24th May 2022 | देश
qutub minar, hearing in saket court

बाबरी मस्जिद से शुरु हुआ मामला शांत होने का नाम ही ले रहा है। बाबारी मस्जिद के बाद ज्ञानवापी मस्जिद और अब कुतुब मीनार (Qurub Minar) में हिंदू देवी-देवताओं की मूतियों के होने का दावा किया गया। इस मामले पर मंगलवार को सुनवाई होगी।

दरअसल, वाराणसी स्थित ज्ञानवापी मस्जिद का मामला अभी विवादों में है। ऐसे में कुतुब मीनार परिसर में पूजा के अधिकार की मांग वाली याचिका पर आज दिल्ली के साकेत कोर्ट में सुनवाई होनी है। दायर की गई इस याचिका में दावा किया गया है कि कुतुब मीनार में हिंदू देवी देवताओं की कई मूर्तियां मौजूद हैं। वहीं याचिका में सवाल कर साकेत कोर्ट पहुंचा है कि क्या दिल्ली की कुतुब मीनार हिंदू और जैन मंदिरों को तोड़कर बनाई गई? 

साकेत कोर्ट में दी गई अर्जी में कुतुब मीनार के परिसर में हिंदू और जैन देवी-देवताओं की बहाली होने की मांग की गई है। साथ ही पूजा करने का अधिकार मिलने की इजाजत मांगी गई है। याचिका में दावा किया गया है कि कुतुब मीनार परिसर में हिंदू देवी देवताओं की मूर्तियां हैं। साथ ही ये दावा भी किया गया है कि 27 हिंदू और जैन मंदिरों को ध्वस्त कर कुव्वत-उल-इस्लाम मस्जिद बनाई गई। परिसर में कई जगहों पर कलश, स्वास्तिक और कमल जैसे चिन्ह मिलने का दावा भी किया गया हैं।

वहीं कुतुब मीनार की मस्जिद के इमाम शेर मोहम्मद ने भी बड़ा दावा किया है कि ASI ने कुतुब मीनार में नमाज पढ़ना बंद करवा दिया है। उन्होंने कहा कि 13 मई जुम्मा के दिन से कुतुब मीनार में नमाज पढ़ना बंद हो चुका है।

इमाम शेर मोहम्मद ने बताया कि 13 मई को एक गार्ड आया, उसने बोला कि ASI की टीम ने उन्हें बुलाया है। फिर ASI वालों ने मुझसे कहा कि आज से यहां नमाज नही पढ़ी जाएगी। हमने कहा कि हम केवल 4 ही लोग है, हमें पढ़ने दे। बाहरी लोग नही आएंगे। लेकिन उन्होंने कहा कि आज से नमाज नही होगी। इसका कारण पूछे जाने पर ASI वालों ने कहा कि ऊपर से ऑर्डर मिला है। 

बता दें कि बता दें कि कुतुब मीनार के मुख्य गेट के दाएं तरफ बनी एक मुगलकालीन छोटी मस्जिद में नमाज होती थी। कहा जा रहा है कि अब इस नमाज पर भारतीय पुरातत्व विभाग ने प्रतिबंध लगा दिया है। इससे पहले साल 2016 में इस छोटी मस्जिद में एक बार फिर नमाज शुरू की गई थी। शुरुआत में इस छोटी मस्जिद में तकरीबन 4 से 5 लोग नमाज पढ़ते थे लेकिन धीरे-धीरे नमाजियों की संख्या 40-50 तक पहुंच गई। 
Qutub Minar- Quwwatul Islam mosque केस पर आज सुनवाई भी होनी है। साकेत कोर्ट एक याचिका पर आज सुनवाई करेगा। इसमें पहले कभी कुतुब कॉम्पलेक्स में मौजूद रहे 27 मंदिरों को फिर से बनाने की याचिका दायर की गई है।
Ruchi Mehra
Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

Leave a Comment:
Name*
Email*
City*
Comment*
Captcha*     8 + 4 =

No comments found. Be a first comment here!

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2022 Nedrick News. All Rights Reserved.