‘एक मुट्ठी चावल’ मिशन से बंगाल विजय? जानिए किसको साधने में जुटी बीजेपी, क्या ये साबित होगा गेमचेंजर?

By Ruchi Mehra | Posted on 9th Jan 2021 | देश
JP Nadda Mega Road Show, BJP Ek Muthi Chawal Campaign

पश्चिम बंगाल में कुछ महीनों में विधानसभा के चुनाव होने है। जिसको लेकर राज्य में चुनावी सरगर्मियां अभी से तेज होने लगी। बीजेपी पूरी कोशिशों में हैं कि वो इस बार ममता बनर्जी को सत्ता से बेदखल कर दें और बंगाल पर अपना कब्जा जमा ले। वहीं ममता बनर्जी के सामने अपनी कुर्सी बचाने की चुनौती है।

बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी एक्टिव मोड में है। अलग-अलग अभियान और  प्रचार के जरिए वो बंगाल की जनता को साधने को कोशिश कर रही है। इसी सिलसिले में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा शनिवार को एक दिन के दौरे पर पश्चिम  बंगाल पहुंचे। यहां पर उन्होनें बीजेपी के मिशन ‘एक मुट्ठी चावल’ की शुरुआत की। इस दौरान उन्होनें एक जनसभा को भी संबोधित किया और ममता बनर्जी पर जुबानी वार किए। नड्डा ने क्या क्या कहा वो आपको बताएंगे, लेकिन पहले ये बताते हैं कि बीजेपी का ये ‘एक मुट्ठी चावल’ अभियान आखिर है क्या…?

क्या है बीजेपी का एक मुट्ठी चावल कैम्पेन?

बीजेपी के इस अभियान के तहत जेपी नड्डा किसानों से एक मुट्ठी चावल लेंगे और ये कार्यक्रम 24 जनवरी तक जारी रहेगा। इस दौरान बीजेपी कार्यकर्ता 73 लाख के करीब किसानों से डोर-टू-डोर जाकर मुकालात करेंगे। उनसे एक मुट्ठी चावल लिए जाएंगे। किसानों से लिए गए इस चावल से बीजेपी 25 से 30 जनवरी तक एक कम्युनिटी किचन चलाएगी, जिसमें किसानों और गरीबों को खाना दिया जाएगा।

‘दुर्गा मां की सौगंध खाएंगें कि…’

जेपी नड्डा ने इस अभियान की शुरुआत करते हुए रैली को संबोधित किया और कहा कि एक मुट्ठी चावल किसानों से मैनें दान में लिए और आगे जाकर भी लूंंगा। 24 जनवरी तक हमारे कार्यकर्ता 40 हजार ग्रामसभाओं में जाएंगे और वो किसानों से अन्न लेंगे। इसके साथ ही दुर्गा मां की सौगंध भी खाएंगे कि उनकी लड़ाई बीजेपी का कार्यकर्ता लड़ेगा। हमारी सरकार अगर सत्ता में आती है तो किसानों के लिए लड़ाई लड़ने का काम करेगी।

इस अभियान की शुरुआत करते हुए नड्डा ने कहा कि आप लोगों ने हमारा जो स्वागत किया, जो जोश दिखाया उससे ये साफ हो गया कि ममता सरकार को दरवाजे दिखाने का फैसला आपने कर लिया है। बीजेपी की सरकार पश्चिम बंगाल सरकार में बनने जा रही है।

ममता सरकार को आड़े हाथों लेते हुए जेपी नड्डा ने कहा कि केंद्र की योजनाओं में वो अपना नाम लगाकर यहां पर चला रही है। लेकिन ममता दीदी नाम बदलने से क्या क्या बदल देगी। लोगों के दिलों में नरेंद्र मोदी बसते हैं। ममता ने ये वादा बंगाल की जनता से किया था कि वो मां, माटी और मानुष के लिए काम करेगीं। लेकिन उन्होनें तोलाबाजी, तुष्टिकरण और तानाशाही के लिए काम किया।

‘अब पछताए होत क्या..जब चिडिया चुग गई खेत..’

बीजेपी अध्यक्ष ने आगे कहा कि मोदी सरकार ने किसानों के बजट को 6 गुना तक बढ़ाया। स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट को भी लागू किया। अब जब ममता की जमीन खिसक गई है, तो उनको किसानों की याद आ रही हैं। लेकिन अब पछताए होत क्या जब चिडिया चुग गई खेत..बंगाल की जनता ये तय कर चुकी है कि आपको जाना है और बीजेपी को लाना है।

बता दें कि जेपी नड्डा एक दिन के दौरे पर पश्चिम बंगाल आए हुए हैं। नड्डा ने बर्दमान पहुंचकर यहां पर राधा गोविंद मंदिर में पूजा भी की। इसके अलावा वो दोपहर का खाना किसान के घर खाएंगे। साथ ही नड्डात का बर्दवान में 9 किलोमीटर लंबा रोड शो करने का भी प्लान है, जो क्लॉक टावर से लार्ड कर्जन गेट तक चलेगा।

गौरतलब है कि इससे पहले जब जेपी नड्डा बंगाल के दौरे पर आए थे तो उनके काफिले पर हमला हुआ था। बीजेपी ने ये आरोप लगाया कि ये हमला TMC समर्थकों ने किया। इस दौरान कई बीजेपी नेताओं को चोट भी आई थीं। ये मामला काफी ज्यादा सुर्खियों में रहा था।

Ruchi Mehra
Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

Leave a Comment:
Name*
Email*
City*
Comment*
Captcha*     8 + 4 =

No comments found. Be a first comment here!

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2022 Nedrick News. All Rights Reserved.