हरियाणा की बीजेपी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी कांग्रेस पार्टी, बीजेपी की बढ़ी मुश्किलें

By Awanish Tiwari | Posted on 23rd Feb 2021 | देश
Bhupinder Singh Hooda and Manohar lal Khattar

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि कानूनों को लेकर आंदोलन जारी है। किसान दिल्ली के बॉर्डरों पर करीब 3 महीनें से लगातार इस कानून के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं। अभी तक 200 से ज्यादा किसानों के मौत की खबर भी सामने आई है। 

विपक्षी पार्टियों की ओर से लगातार इस मामले को लेकर केंद्र सरकार पर सवाल उठाए जा रहे हैं। विपक्ष के कई बड़े नेता लगातार इन दिनों किसानों के समर्थन में महापंचायतों को संबोधित कर रहे हैं। हरियाणा, पंजाब और पश्चिमी यूपी के सबसे ज्यादा किसान आंदोलन में हिस्सा ले रहे हैं। 

इसी बीच हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने प्रदेश की बीजेपी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने कहा है कि मौजूदा सरकार ने राज्य की जनता का भरोसा खो दिया, कांग्रेस पार्टी विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव लाएगी।

भूपेंद्र सिंह हुड्डा का पूरा बयान

हरियाणा के पूर्व सीएम ने कहा, ‘हम विधानसभा में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएंगे। इस सरकार ने लोगों का भरोसा गवां दिया है लिहाजा हम अविश्वास प्रस्ताव लेकर आएंगे। सरकार को समर्थन देने वाले दो निर्दलीय विधायकों ने अपना समर्थन वापस ले लिया है। गठबंधन सहयोगी पार्टी के कुछ विधायकों ने कहा कि यह सबसे भ्रष्ट सरकार है।‘

हरियाणा की सियासी गणित

बता दें, हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 में बीजेपी ने मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व में प्रदेश की क्षेत्रीय पार्टी जेजेपी के साथ मिलकर लगातार दूसरी बार सरकार बनाई। 90 विधानसभा सीटों वाले हरियाणा में बीजेपी को 40 सीटों पर जीत मिली थी। जबकि बहुमत के लिए 46 सीटों की आवश्यकता होती है। 

तब बीजेपी ने प्रदेश की 10 सीटों पर जीत हासिल करने वाली जेजेपी के साथ मिलकर सरकार बना ली। उन्हें कुछ निर्दलीय विधायकों का समर्थन भी मिला। खबरों के मुताबिक अब किसान आंदोलन को लेकर निर्दलीय सहित सरकार में शामिल कई विधायकों ने अपना समर्थन वापस ले लिया है। ऐसे में पिछले चुनाव में 30 सीटों पर जीत हासिल करने वाली कांग्रेस पार्टी अब सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी में है। 

गौरतलब है कि किसान आंदोलन को लेकर सियासत भी चरम पर है। विपक्षी पार्टियों की ओर से लगातार केंद्र सरकार की नीतियों पर सवाल उठाए जा रहे हैं। अभी तक केंद्र सरकार के मंत्रियों और किसानों के बीच 11 दौरे की बातचीत हो चुकी है, लेकिन नतीजा अभी भी कोसों दूर दिख रहा है। 

Awanish Tiwari
अवनिश एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करतें है। अवनिश पॉलिटिक्स, विदेश, राज्य, स्पोर्ट्स, क्राइम की खबरों पर एक समान पकड़ रखतें हैं। अवनिश को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। अवनिश नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करते हैं।

अन्य

लाइफस्टाइल

© 2020 Nedrick News. All Rights Reserved. Designed & Developed by protocom india