Budget 2021: बजट बनाने वाली वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की टीम में कौन-कौन शामिल? जानिए इसके बारे में...

By Reeta Tiwari | Posted on 28th Jan 2021 | देश
budget 2021, budget team

एक फरवरी यानी सोमवार को देश का बजट पेश किया जाएगा। वैसे तो हर साल ही लोगों को इस दिन का बेसब्री से इंतेजार रहता है। लेकिन इस बार का बजट इसलिए भी बेहद खास होगा क्योंकि ये कोरोना महामारी के संकट के बीच पेश किया जा रहा है। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस ने लोगों के जीवन पर गहरा असर डाला। वहीं महीनों तक लगे लॉकडाउन की वजह अर्थव्यवस्था पर भी काफी गहरी चोट पड़ी। ऐसे में सरकार इस बार बजट में क्या ऐलान करेगी, इस पर सभी की निगाहें टिकी हैं...

एक फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारण तीसरी बार बजट पेश करने जा रही है। क्या आप जानते हैं कि बजट तैयार करने वाली निर्मला सीतारमण की टीम में कौन-कौन हैं? आइए आपको इसके बारे में बता देते हैं...

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन

बजट बनाने वाली टीम में कुल 6 सदस्य शामिल हैं। इस बार दो नए चेहरे भी इसका हिस्सा है। सबसे पहले बात करते हैं कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन की। दिसंबर 2018 में ये मुख्य आर्थिक सलाहकार बनाए गए थे। कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन ने फाइनेंशियल इकनॉमिक्स में PHD की हुई है। यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो बूथ स्कूल ऑफ बिजनेस से उन्होनें ये डिग्री ली। देश के CEA बनने से पहले सुब्रमण्यन इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस में पढ़ाते भी थे। इनको बैंकिंग के साथ कॉर्पोरेट प्रशासन और आर्थिक नीति का एक्सपर्ट माना जाता है।

टीवी सोमनाथन

टीम में दूसरा नाम टीवी सोमनाथन का है। सोमनाथन व्यय विभाग के सचिव हैं। इन्होनें कोलकत्ता यूनिवर्सिटी से इकनॉमिक्स में PHD की है। सोमनाथन 1987 बैच के तमिलनाडु कैडर के IAS अधिकारी हैं। ये प्रधानमंत्री कार्यालय में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं। साल 2015 में सोमनाथन ने प्रधानमंत्री कार्यालय में बतौर संयुक्त सचिव काम किया। इसके अलावा वो विश्व बैंक के साथ भी काम कर चुके हैं।

अजय भूषण पांडेय

अजय भूषण पांडेय भी इस टीम में शामिल हैं। वो राजस्व विभाग के सचिव हैं। अजय भूषण पांडेय महाराष्ट्र कैडर के 1984 बैच के IAS अधिकारी हैं। वो भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) के CEO भी रह चुके हैं, जिसमें ये अपना लोहा मनवा चुके हैं। पांडेय ने IIT कानपुर से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और मिनेसोना यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर साइंस में PHD की हुई हैं।

देबाशीष पांडा

वहीं टीम में आखिरी नाम देबाशीष पांडा का है। ये वित्त मंत्रालय के वित्तीय सेवा विभाग के सचिव हैं। वित्तीय सेक्टर से जुड़े सारे ऐलान इनकी ही जिम्मेदारी में आते हैं। देबाशीष पांडा 1987 यूपी बैच के IAS अधिकारी हैं। इन पर वित्तीय सिस्टम की स्थिरता को सुनिश्चित करने के लिए RBI के साथ मिलकर काम करने की जिम्मेदारी है।

तरुण बजाज

वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामलों के सचिव तरुण बजाज भी बजट बनाने वाली टीम में शामिल हैं। वो 1988 हरियाणा बैच के IAS अधिकारी हैं। वित्त मंज्ञालय से पहले तरुण बजाज प्रधानमंत्री कार्यालय में भी काम कर चुके हैं। साथ ही बजाज ने कई राहत पैकेज पर भी काम किया है। आत्मनिर्भर भारत के तीन पैकेज में भी इन्होनें अहम भूमिका निभाई।

तुहीन कांत पांडे

टीम में अगला नाम तुहीन कांत पांडे का हैं। ये निवेश व सार्वजनिक परिसंपत्ति प्रबंधन विभाग के सचिव हैं। तुहीना कांत पांडे 1987 बैच के ओडिशा कैडर के IAS अधिकारी हैं। 2019 के अक्‍टूबर में इनको DIPPM का सचिव बनाया गया।

Reeta Tiwari
Reeta Tiwari
रीटा एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रीटा पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रीटा नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2020 Nedrick News. All Rights Reserved. Designed & Developed by protocom india