Farmers Protest: 'सनी देओल ने धोखा दिया', दीप सिद्धू ने एक और वीडियो जारी कर लगाए ये आरोप

By Reeta Tiwari | Posted on 1st Feb 2021 | देश
farmers protest, sunny deol deep sindhu

कृषि कानून को लेकर बवाल खत्म होने का नाम नहीं ले रहा। 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौरान जो हिंसा हुई, उस पर राजनीति गरमाई हुई है। गणतंत्र दिवस के मौके पर प्रदर्शनकारी लाल किले तक पहुंच गए थे और वहां प्राचीर पर निशान साहिब फहराया। ये झंडा उसी पोल पर फहराया गया, जहां पर 15 अगस्त को तिरंगा फहराया जाता है।

लाल किले पर मौजूद थे दीप सिद्धू

इस घटना को जहां एक तरफ बीजेपी के तमाम नेताओं ने तिरंगे का अपमान बताया। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बीते दिन 'मन की बात' में कहा कि 26 जनवरी को जो तिरंगे का अपमान हुआ उससे देख दुखी हुआ। वहीं लाल किले पर हिंसा के दौरान दीप सिद्धू के नजर आने पर विपक्षी पार्टियां ने सत्ताधारी मोदी सरकार को घेर रही हैं।

दरअसल, दीप सिद्धू बीजेपी सांसद सनी देओल के करीबी बताए जाते हैं। उन्होनें चुनाव के दौरान सनी के लिए प्रचार भी किया था। इतना ही नहीं पीएम मोदी और सनी देओल के साथ दीप सिद्धू की तस्वीर लगातार सोशल मीडिया पर वायरल है। जिसके चलते बीजेपी भी हिंसा को लेकर सवालों के घेरे में बनी हुई हैं। वहीं सनी देओल ने हिंसा के तुरंत बाद ही ट्वीट कर ये साफ कर दिया था कि उनका दीप सिद्धू के साथ कोई भी लेना देना नहीं।

'सनी ने लोगों को धोखा दिया'

हिंसा के बाद दीप सिद्धू लगातार फरार हैं। इसी बीच उन्होनें एक वीडियो जारी कर सनी देओल पर धोखा देने का आरोप लगाया। दीप सिद्धू ने अपनी इस वीडियो में कहा कि सनी देओल ने लोगों को धोखा दिया। पंजाबी एक्टर ने वीडियो में आगे कहा- 'मैनें अपनी जिंदगी के 20 दिन सनी देओल को ये सोचकर दिए कि वो मेरे भाई हैं। लेकिन कभी बीजेपी के लिए वोट नहीं मांगा और अब आप कह रहे हैं कि मैं RSS और बीजेपी का आदमी हूं। अब सनी देओल पोस्ट पर पोस्ट किए जा रहे हैं।' उन्होनें आगे कहा कि सनी देओल आप गलत हैं। आपसे जब लोगों को उम्मीद थी, उस दौरान आपने साथ छोड़ दिया।

अपने ऊपर लगे आरोपों पर भड़के 

इस दौरान अपने ऊपर लगे आरोपों पर दीप सिद्धू भड़कते हुए भी नजर आए। उन्होनें कहा कि मैनें पंजाब के लोगों के लिए आवाज उठाई और अब मुझे गद्दार कहा जा रहा है। लाल किले पर हिंसा के दौरान वहां पर 5 हजार लोग शामिल थे, जिनमें कई नेता और गायक भी थे। लेकिन निशाना केवल मुझे बनाया जा रहा।

दीप सिद्धू ने आगे कहा कि मुझे फर्क नहीं पड़ता कि सरकार क्या बोल रही है। मुझे इस बाती से दुख पहुंच रहा कि लोग मेरे बारे में क्या बोल रहे हैं। इस दौरान दीप सिद्धू ने ये भी बताया कि वो बिहारी मजदूरों के बीच खेतों में रह रहे हैं। वो बोले कि यहां ये लोग मेरा सहयोग कर रहे हैं और मैं इनके बीच में हूं। सरकार का अगर कोई आदमी होता, तो लग्जरी होटल के मजे ले रहा होता। वो बोले कि उनके पास खाने को कुछ नहीं है।

गौरतलब है कि दीप सिद्धू के लाल किले हिंसा के दौरान काफी बवाल मचा हुआ है। किसान नेता राकेश टिकैत ने दीप सिद्धू पर बीजेपी का आदमी होने का आरोप लगाया था। वहीं 26 जनवरी को मचे उत्पाद के बाद दीप सिद्धू की मुश्किलें लगातार बढ़ी हुई हैं। उनके खिलाफ केस भी दर्ज किया जा चुका है। हालांकि पहले उन्होनें एक वीडियो जारी कर कहा था कि वो जांच में सहयोग करेंगे। इसके लिए उनको एक-दो दिन का वक्त चाहिए।
Reeta Tiwari
Reeta Tiwari
रीटा एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रीटा पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रीटा नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

Leave a Comment:
Name*
Email*
City*
Comment*
Captcha*     8 + 4 =

No comments found. Be a first comment here!

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2022 Nedrick News. All Rights Reserved.