कहीं कर्फ्यू, तो कहीं ट्रैवल एडवाइजरी...कोरोना के यू-टर्न के साथ कई राज्यों में लौटने लगी पाबंदियां, जानिए कहां क्या हुआ लागू?

By Ruchi Mehra | Posted on 23rd Feb 2021 | देश
corona cases, corona update india

वैश्विक महामारी का प्रकोप देश में एक बार फिर से बढ़ने लगा है। जिसकी वजह से टेंशन दोबारा से बढ़ गई है। महीनों बाद जहां एक बार को ऐसा लगने लगा था कि कोरोना अब भारत में कंट्रोल हो रहा है, लेकिन इसी बीच कुछ राज्यों में दोबारा से केस बढ़ने की वजह से परेशानी  बढ़ गई। 

देश में बढ़ रही एक्टिव केस की संख्या

बीते कुछ दिनों से एक्टिव केस की संख्या बढ़ने लगी है। नवंबर के बाद ऐसा देखने को मिल रहा है। बीते 24 घंटे में 13 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश थे जहां पर कोरोना केस से ज्यादा नए मरीजों की पहचान हुई। जिनमें महाराष्ट्र के अलावा जम्मू-कश्मीर, पंजाब और चंडीगढ़ शामिल है। 

पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना के 10 हजार से अधिक केस सामने आए हैं। इस दौरान 78 लोगों की मौत हुई और 13 हजार से ज्यादा लोग स्वस्थ हुए। देश में कोरोना के मामले बढ़कर एक करोड़ 10 लाख के पार हो गए। इनमें से एक करोड़ 7 लाख से ज्यादा लोग रिकवर हो चुके है। जबकि एक लाख 56 हजार से ज्यादा की मौत हुई। देश में कोरोना के अभी 1 लाख 47 हजार 306 एक्टिव केस हैं। 

एक्टिव केस में 15वें नंबर पर पहुंचा

भारत दोबारा से दुनिया के उन देशों की लिस्ट में आ गया है, जहां कोरोना के सबसे अधिक एक्टिव केस हैं। इस लिस्ट में देश फिलहाल 15वें नंबर पर आ गया है। जबकि 30 जनवरी को पुर्तगाल, इंडोनेशिया और आयरलैंड को पीछे छोड़ते हुए देश 17वें नंबर पर पहुंच गया था।

वहीं कोरोना के बढ़ रहे केस को देखते हुए सरकारें भी पहले से ही सतर्क हैं। कुछ राज्यों में दोबारा से पांबदियां लगाई जाने लगी है। राजस्थान के कुछ जिलों में कर्फ्यू लगाया गया है। जोधपुर में 21 मार्च तक के लिए धारा 144 लागू की गई। आइए आपको बताते हैं कि कोरोना में दोबारा बढ़ रहे प्रकोप की वजह से किस राज्य में क्या पाबंदी दोबारा से लगाई गई...

जानिए कहां क्या सख्ती की गई?

महाराष्ट्र में फिर से बढ़ रहे केस एक बार फिर से डराने लगे हैं। पिछले एक हफ्ते में यहां 81 फीसदी वृद्धि देखने को मिली। महाराष्ट्र में कोरोना के प्रकोप के लौटते ही कई जगहों पर कुछ पाबंदियां भी लौटने लगी। अमरावती में एक हफ्ते का लॉकडाउन लगाया गया। कई जगहों पर लॉकडाउन लगा दिया गया। नागपुर में स्कूल-कॉलेज को बंद करने के आदेश दिए गए। अकोला, वाशिम, बुल्ढाड़ा और यवतमाल में भी पाबंदियां लगाई गई।

महाराष्ट्र में कोरोना केस को बढ़ता देख कर्नाटक भी अलर्ट पर है। कालाबुरागी जिला प्रशासन ने एक ट्रैवेल एडवाइजरी जारी की। कर्नाटक-महाराष्ट्र सीमा पर पांच चेक पोस्ट बनाए गए। जो लोग महाराष्ट्र से अफज़लपुरा और अलंद के रास्ते कर्नाटक में आएंगे, उनका RT-PCR कराना जरूरी होगी। रिपोर्ट नेगेटिव आने पर ही एंट्री मिल पाएगी। 

बढ़ते कोरोना केस को देखते हुए जोधपुर पुलिस ने निर्देश जारी किए। जिसके मुताबिक अब शादी समारोह में 100 से अधिक मेहमानों नहीं बलाए जाएंगे। ये पाबंदी 22 फरवरी से 21 मार्च तक लागू रहेगी। मध्य प्रदेश और गुजरात ने आसपास जिलों में हाई अलर्ट जारी किया।कोविड हाई रिस्क वाले राज्यों से यात्रा करने वालों की थर्मल स्कैनिंग अनिवार्य की गई। उत्तराखंड में पांच राज्यों महाराष्ट्र, गुजरात, केरल, एमपी और छत्तीसगढ़ से आने वाले लोगों की टेस्टिंग होगीं। 

गौरतलब है जैसे-जैसे देश में कोरोना का प्रकोप घटने लगा था, देश में टेस्टिंग की भी संख्या में भी कमी आ गई। जहां दिसंबर तक रोजाना 11 लाख के करीबन जांच हुआ करती थीं, वहीं अब रोजाना औसतन 6 लाख लोगों की टेस्टिंग हो रही है। इसी वजह से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 9 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को चिट्ठी लिखीं और टेस्टिंग बढ़ाने का आदेश दिया। 

Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

अन्य

लाइफस्टाइल

© 2020 Nedrick News. All Rights Reserved. Designed & Developed by protocom india