'तब तुम्हें कौन बचाएगा?'...ओवैसी के भड़काऊ बोल पर भारी बवाल

By Ruchi Mehra | Posted on 24th Dec 2021 | देश
owaisi, viral video

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी एक बार फिर विवादों में हैं। दरअसल, सोशल मीडिया पर ओवैसी के एक बयान का वीडियो जमकर वायरल हो रहा, जिसको लेकर एक नया विवाद खड़ा हो गया। वीडियो में ओवैसी एक रैली को संबोधित करते हुए धमकी भरे लहेजे में कहते सुनाई दे रहे हैं कि जब योगी मठ में चले जाएंगे, मोदी पहाड़ों में चले जाएंगे, तब तुम्हें कौन बचाएगा?

ओवैसी के इस बयान को लेकर सोशल मीडिया पर भारी बवाल होता हुआ नजर आ रहा है। वहीं इसको लेकर सियासत भी तेज होती चली जा रही है। खासतौर पर बयान को लेकर बीजेपी ओवैसी पर बुरी तरह हमलावर हो गई। बीजेपी वीडियो को लेकर ओवैसी को घेरते हुई उन पर कार्रवाई करने की मांग करती नजर आ रही है। 

क्या कहा था ओवैसी ने?

मंच पर ओवैसी कहते हुए नजर आ रहे हैं कि मां उन पुलिस के लोगों से कहना चाहूंगा...मेरी बात को याद रखना। योगी मुख्यमंत्री हमेशा नहीं रहेगा। मोदी हमेशा प्रधानमंत्री नहीं रहेगा। हम मुसलमान अभी खामोश जरूर है। लेकिन याद रखना हम तुम्हारे जुल्म नहीं भूलेंगे। तुम्हारे जुल्मों को हम याद रखें। अल्लाह... अपनी ताकत के जरिए तुम्हारी अंतिम को नेस्तनाबूद करेंगे। हालात बदलेंगे, जब कौन बचाने आएगा तुमको? जब योगी अपने मठ में चले जाएंगे, मोदी पहाड़ों में चले जाएंगे। जब कौन आएगा?।'

बीजेपी नेता बयान पर भड़के

ओवैसी के इसी बयान वाली वीडियो को लेकर बवाल मचा हुआ है। बीजेपी नेता संबित पात्रा ने इस पर कहा- 'किसे धमका रहे हो मियां? याद रखना जब-जब इस वीर भूमि पर कोई औरंगजेब और बाबर आएगा तब-तब इस मातृभूमि की कोख से कोई ना कोई वीर शिवाजी, महाराणा प्रताप और मोदी-योगी बन खड़ा हो जाएगा। सुनों हम ना डरे थे मुगलों से ना जिन्नावादियों से तो तुमसे क्या खाक डरेंगे।' ओवैसी का ये बयान 12 दिसंबर का बताया जा रहा है, जब वो कानपुर दौरे पर आए थे। उनके बयान का वीडियो अब वायरल हो रहा है। 

इसके अलावा सीएम योगी के  मीडिया सलाहकार ने भी ओवैसी पर निशाना साधा। उन्होंने ओवैसी की वीडियो ट्वीट करते हुए कहा- 'गिद्धों के कोसने से गाएं नहीं मरती ओवैसी साहब, ताकत तो प्रभु राम ने दिखा दी है अपनी, भोलेनाथ ने दिखा दी है अपनी, कोई भी गलती की तो 'गिद्धों' का भरपूर इलाज होगा इस बार।' 

ओवैसी ने दी सफाई

वहीं, अपने इस विवादित बयान पर हंगामा मचने के बाद ओवैसी की भी सफाई इस पर सामने आई है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार में दिए गए भाषण से ध्यान भटकाने के लिए मेरे द्वारा कानपुर में दिए गए भाषण का 1 मिनट का क्लिप वायरल किया गया है।' ओवैसी ने 2 मिनट 15 सेकंड का वीडियो शेयर कर लिखा- 'मैंने अपने भाषण के दौरान न ही हिंसा के लिए उकसाया और ना ही धमकी दी। मैंने अपने भाषण में पुलिस अत्याचारों की बात की। मेरे वीडियो को काटकर दिखाया गया है।'

अपने वीडियो को दो पार्ट्स में ओवैसी ने शेयर करते हुए कहा कि मेरे कहने का संदर्भ साफ है। मैं उन पुलिस वालों की बात कर रहा था जो 80 साल के बुजुर्गों पर अत्याचार करते हैं। जो चुपचाप तमाशा देखते हैं क्योंकि भीड़ एक रिक्शा चालक को उसकी बेटी के सामने पीटती है। मैं उन पुलिस वालों की बात कर रहा था जो बच्चे को गोद में लिए हुए एक व्यक्ति पर लाठी बरसाती है।

Ruchi Mehra
Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

Leave a Comment:
Name*
Email*
City*
Comment*
Captcha*     8 + 4 =

No comments found. Be a first comment here!

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2022 Nedrick News. All Rights Reserved.