तीन महीनों तक अमेरिकी एयरपोर्ट पर छिपा रहा ये भारतीय शख्स, वजह कर देगी आपको हैरान!

By Ruchi Mehra | Posted on 19th Jan 2021 | विदेश
man hide chicago airport for  three months, corona fear

2019 के अंत में कोरोना महामारी ने चीन के वुहान शहर में दस्तक दी थीं। उस वक्त किसी को भी ये अंदाजा नहीं था कि ये वायरस पूरी दुनिया में इस तरह तबाही मचाएगा। शायद ही ऐसा कोई देश होगा, जो कोरोना के कहर से बच पाया हो। दुनियाभर में करोड़ों लोग इस वायरस की चपेट में आए, वहीं लाखों लोगों को इसने मौत की नींद सुला दिया। हालांकि अब दुनिया इससे उभरती हुई नजर आ रही हैं।

कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ अमेरिका

सुपरपॉवर देश अमेरिका में तो कोरोना महामारी ने जो तबाही मचाई, वैसे किसी भी देश में देखने को मिली। अमेरिका में कोरोना का सबसे भयंकर साया छाया। कोरोना के मामलों में अमेरिका अभी भी पहले नंबर पर हैं। केवल अमेरिका में ही कोरोना के 2 करोड़ से भी ज्यादा मामले अब तक सामने आ चुके हैं। जबकि 4 लाख से भी ज्यादा लोगों की मौत हुई है।

कोरोना के डर का अजीब मामला

2020 में जब ये खतरनाक वायरस चीन से होता हुआ, पूरी दुनिया में अपने पैर पसार रहा था, तब लोगों में इसको लेकर काफी डर बना हुआ था। कोरोना के डर का अब एक बेहद ही अजीब मामला सामने आया है।कोरोना के डर के चलते एक शख्स तीन महीनों तक एयरपोर्ट पर ही छिपा रहा।

जी हां, ये मामला अमेरिका के शिकागो एयरपोर्ट से सामने आया है। जहां अमेरिका में रह रहे 36 साल का भारतीय शख्स आदित्य सिंह शिकागो इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर तीन महीनों तक छिपा रहा। युवक ने कोरोना के डर की वजह से किया। हालांकि इस बात का खुलासा होने के बाद आदित्य को गिरफ्तार कर लिया गया।

पूछताछ में आदित्य ने बताया कि उसको कोरोना महामारी के दौरान यात्रा करने से डर लग रहा था। इस वजह से वो शिकागो एयरपोर्ट पर ही रहने लगा। वो कोरोना से डर के कारण बाहर नहीं जाना चाहता था और तीन महीनों तक वहीं पर छिपकर रहा। बता दें कि आदित्य 19 अक्टूबर को लॉस एंजीलिस से शिकागो एयरपोर्ट आया था।

ऐसे हुआ खुलासा

एयरलाइन स्टाफ में एक व्यक्ति ने आदित्य से पहचान बताने के लिए कहा, तो इसके बारे में खुलासा हुआ। अपनी पहचान दिखाने के लिए उसने एक फेक बैज दिखा दिया। तब ही आदित्य की चोरी पकड़ी गई। स्टाफ ने बैज देखा तो वो चौंक गया। क्योंकि ये बैज एक ऑपरेशन मैनेजर का था, जो अक्टूबर में ही खोया था। दरअसल, ऑपरेशन मैनेजर का बैज आदित्य को एयरपोर्ट पर ही मिल गया  था और फिर वो तीन महीनों तक एयरपोर्ट पर ही रहा।

मामला जानकर जज भी हैरान

गिरफ्तार किए जाने के बाद आदित्य को कोर्ट में भी पेश किया गया। असिस्टेंट स्टेट अटॉर्नी कैथलीन हेगर्टी (वकील) ने बताया कि कोरोना के डर की वजह से आदित्य अपने घर नहीं गया और वो वहां  पर बाकी यात्रियों से खाना मांगकर खा रहा था। इसके अलावा उसने पैसें मांगकर तीन महीनों तक गुजारा चलाया। वकील की इस बात ने जज को भी हैरत में डाल दिया।

असिस्टेंट पब्लिक डिफेंडर कर्टनी (अन्य वकील) स्मॉलवुड ने बताया कि आदित्य लॉस एंजिल्स में रहता हैं। उसका कोई भी आपराधिक बैकग्राउंड नहीं हैं। आपको जानकारी के लिए बता दें कि एयरपोर्ट अथॉरिटी ने आदित्य पर गैरकानूनी ढंग से रहने और चोरी करने का आरोप लगाया। एयरपोर्ट अथॉरिटी ने अपनी जांच में ये पाया कि आदित्य ने एयरपोर्ट और यात्रियों पर सुरक्षा पर कोई भी खतरा पैदा नहीं किया।

Ruchi Mehra
Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

Leave a Comment:
Name*
Email*
City*
Comment*
Captcha*     8 + 4 =

No comments found. Be a first comment here!

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2022 Nedrick News. All Rights Reserved.