तालिबान के लिए सबकुछ किया...पाकिस्तान के चेहरे पर से उठा मखौटा, खुलेआम स्वीकार ली ये बात!

By Ruchi Mehra | Posted on 2nd Sep 2021 | विदेश
pakistan, taliban

अफगानिस्तान में तालिबान की वापसी से जहां एक ओर अधिकतर देश चिंता में है। लेकिन इस बीच ऐसे भी कुछ देश है, जिनको तालिबान जैसे क्रूर आतंकी संगठन के अफगानिस्तान की सत्ता में लौटने से खुशी हो रही है। इसमें पाकिस्तान भी शामिल है। पाकिस्तान के तालिबान के साथ संबंध किसी से छिपे नहीं है। 

भले ही पाकिस्तान कितना भी छिपाने की कोशिश क्यों ना कर लें। सभी ये जानते है कि पाकिस्तान तालिबान की काफी मदद करता आया है। पाकिस्तान पर तो ये तक आरोप लगते है कि तालिबान को फिर से खड़ा करने में उसका बड़ा हाथ है। हथियारों से लेकर तालिबानी आतंकियों को आश्रय देने पाकिस्तान पर तालिबान की जमकर मदद करने के आरोप लगते रहते हैं। 

खुद को बताया तालिबान का संरक्षक

 वैसे तो पाकिस्तान इस बात को छिपाने की काफी कोशिश करता है। लेकिन कहना है सच कभी ना कभी सामने आ ही जाता है। ऐसा ही पाकिस्तान के साथ भी है। बुधवार को पाकिस्तान सरकार ने ऑन कैमरा एक बड़ी बात कबूल की। उसने खुद को तालिबानी आतंकियों का 'संरक्षक' बताया। साथ ही ये भी माना कि पाक ने तालिबानी आतंकियों को अपने यहां आश्रय दी और शिक्षा भी प्रदान की।

दरअसल, पाकिस्तान के आंतरिक मंत्री शेख राशि ने एक टीवी शो में कबूला कि इमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान सरकार ने तालिबान नेताओं के लिए सब कुछ किया है। 

मंत्री शेख राशिद ने खुलेआम स्वीकार किया कि हमने लंबे वक्त तक तालिबान के नेताओं की हिफाजत की। उन्होंने हमारे यहां शरण ली, शिक्षा ली और यहां पर घर बनाया। मंत्री बोले कि हमने तालिबान के लिए सबकुछ किया। 

लगातार तालिबान को सपोर्ट कर रहा पाक

वहीं इससे पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी  28 अगस्त को एक बड़ा बयान देते हुए कहा था कि इस्लामाबाद अफगानिस्तान को समर्थन देने के लिए रचनात्मक भूमिका निभाता रहेगा। भले ही पाक खुले तौर पर तालिबान की मदद की बात ना स्वीकार करता हो, लेकिन वो कई बार उसका समर्थन कर चुका है। जब तालिबान ने अफगानिस्तान पर फिर से कब्जा जमाया था, तो खुद पाकिस्तानी पीएम इमरान खान ने इसे बड़ी जीत माना था। 

'पॉजिटिव माइंडसेट के साथ आया है तालिबान'

पाकिस्तान के नेता ही नहीं बल्कि वहां के खिलाड़ी भी तालिबान के सपोर्ट में नजर आते हैं। हाल ही में पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद अफरीदी ने कहा था कि तालिबान इस बार पॉजिटिव माइंडसेट के साथ आया है। वो महिलाओं को काम करने दे रहा है और क्रिकेट का बड़ा समर्थक है। 

Ruchi Mehra
Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2020 Nedrick News. All Rights Reserved. Designed & Developed by protocom india