अब इस देश में हंस-रो तक नहीं सकते लोग, लगी सख्त पाबंदियां, ऐसा करने पर मिलेगी मौत!

By Ruchi Mehra | Posted on 17th Dec 2021 | विदेश
north korea, weird rules

उत्तर कोरिया का नाम जब आता है, तो लोग यहां के तानशाह और इस देश के अजीबों-गरीब कानून पर चर्चा करने लगते हैं। उत्तर कोरिया अपने अजीब कायदे-कानून और फैसलों को लेकर दुनियाभर में मशहूर है। अब यहां के तानाशाह किम जोंग उन ने अपने देश के लोगों ऐसी कुछ पाबंदियां लगी दी, जिसके बारे में जानकर आप भी चौंक जाएंगे। उत्तर कोरिया में अब अगले कुछ दिनों के लिए हंसने-रोने से लेकर खुश होने तक पर भी बैन लगा दिया है। 

दरअसल उत्तर कोरिया शोक मना रहा हैं. यह शोक है। उसके पूर्व नेता किम जोंग इल के 10वीं बरसी का। पूर्व लीडर के निधन के 10 साल के पूरे होने पर उत्तर कोरिया की जनता पर 11 दिनो का बैन लगाया हैं। जिस दौरान लोगों के ना तो हंस सकते हैं, ना रो सकते हैं और ना ही शराब पी सकते हैं। सरकारी अधिकारियों ने किम जोंग इल के निधन पर  वहां के लोग को किसी भी तरह की खुशी ना जाहिर करने का सख्त आदेश दिया। उत्तर कोरिया की जनता पर 11 दिनों के लिए जो पाबंदियां लगाई गई है, अगर कोई उसे तोड़ता है तो उसे मौत की सजा दी जाएगी। 

यहा नहीं किम जोंग इल की मौत 17 दिसंबर को हुई थी तो इसलिए लोगो को इस दिन सख्त आदेश दिए गए हैं कि इस दिन कोई भी बाजार से नया सामान नहीं खरीदेगा और न ही कोई अच्छी डिश बनाएगा। जो लोग शोक के दौरान खुशी मनाते या शराब पीते दिखे उन्हें सीधा मौत की सजा सुनाई जाएगी। वहीं रिपोर्ट्स की मानें तो 11 दिनों के इस शोक के दौरान अगर किसी के परिवार में कोई मौत भी हो जाती है, तो भी उसे तेजी से रो नहीं सकता। वो शव को शोक खत्म करने के बाद ही बाहर लेकर जा सकते हैं। बता दें कि किम जोंग इल ने उत्तर कोरिया पर 1994 से 2011 तक शासन किया था। किम जोंग इस के बाद उनके तीसरे और सबसे छोटे बेटे किम जोंग उन ने देश की कमान संभाली।

Ruchi Mehra
Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

Leave a Comment:
Name*
Email*
City*
Comment*
Captcha*     8 + 4 =

No comments found. Be a first comment here!

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2022 Nedrick News. All Rights Reserved.