Father’s Day 2021: क्या आप जानते हैं कैसे हुई थी फादर्स डे की शुरुआत? इस दिन पिता को ऐसे कराएं स्पेशल फील...

By Ruchi Mehra | Posted on 20th Jun 2021 | रोचक किस्से
father's day, history

हमारे जीवन में दो लोगों का सबसे ज्यादा महत्व होता है, वो होते हैं हमारे माता और पिता। हमारी मां हमें जन्म देती है, तो पिता हमने चलना सिखाते है। मां हमें सपने दिखाती है, तो पिता हमारे सपनों को पूरा करने के लिए अपनी जी-जान लगा देते है। वैसे तो हमेशा ही हमारे लिए माता-पिता प्यारे होते है, लेकिन उनको स्पेशल फील कराने के लिए हर साल मदर्स डे और फादर्स डे (Father’s Day 2021) मनाया जाता है। 

मदर्स डे मई के पहले रविवार को होता है और फॉदर्स डे जून के तीसरे रविवार को मनाया जाता है। इस साल फादर्स डे आज यानि 20 जून को मनाया जा रहा है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि फादर्स डे की शुरूआत कैसे और कब हुई थी? क्यों ये हर साल जून के तीसरे रविवार को ही मनाया जाता है? वैसे तो फादर्स डे को लेकर कई कहानियां है, लेकिन आज हम आपको उनमें से सबसे मशहूर कहानी बताने जा रहे है...

1910 में हुईं थी फादर्स डे की शुरूआत 

फादर्स डे की शुरुआत अमेरिका के वॉशिंगटन से हुई थी. पहली बार फादर्स डे 19 जून 1910 को मनाया गया था। वॉशिंगटन के स्पोकन शहर की रहने वाली सोनोरा स्मार्ट डॉड को सबसे पहले फादर्स डे मनाने का आइडिया आया था। उसे ये आइडिया मदर्स डे से ही आया था। दरअसल, सोनोरा डॉड की मां उसके बचपन में ही गुजर गई थी, जिसके बाद उसके पिता विलियम स्मार्ट ने बच्चों की परवरिश की। सोनोर के पिता ने काफी मुश्किल से सभी बच्चों का पालन-पोषण किया, लेकिन कभी मां की कमी महसूस नहीं होने दी। इसकी वजह से सोनोरा का अपने पिता के प्रति काफी सम्मान था। 

साल 1909 में मई महीने में सोनोरा मदर्स डे पर चर्च गई थी। चर्च में आयोजित कार्यक्रम में हर कोई मां की अहमियत बता रहा था। बस यही से सोनोरा को फादर्स डे मनाने का ख्याल आया। तब सोनोरा ने सोचा कि पिता के सम्मान में कोई भी दिन है ही नहीं। सोनोरा चाहती थीं कि अगले साल उसके पिता के जन्मदिन को फादर्स डे मनाया जाए, जो 5 जून को होता था। हालांकि कुछ परेशानियों के चलते 5 जून को तो फादर्स डे मनाना संभव नहीं हो पाया, लेकिन उसके कुछ ही दिन बाद 19 जून 1910 को मनाया गया। उस दिन भी रविवार ही था। 

फिर साल 1916 में अमेरिकी राष्ट्रपति वुडरो विल्सन ने फादर्स डे मनाने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी। साल 1924 में राष्ट्रपति कैल्विन कुलिज ने इसे राष्ट्रीय आयोजन घोषित किया। वहीं 1966 में अमेरिकी राष्ट्रपति लिंडन जॉनसन ने पहली बार फादर्स डे को जून के तीसरे रविवार को मनाने का फैसला लियाय़ 1972 में राष्ट्रपति रिचर्स निक्सन ने नियमित अवकाश घोषित किया। अब फादर्स डे सिर्फ अमेरिकी ही नहीं पूरी दुनिया में मनाया जाता है। 

ऐसे मनाएं फादर्स डे... 

फादर्स डे के दिन कई लोग अपने पिता को स्पेशल फील कराने के लिए उनके मनचाहे तोहफे देते है या फिर उनके साथ घूमने जाते है। हालांकि इस बार देश पर कोरोना महामारी का खतरा अभी भी मंडरा रहा है, तो ऐसे में फादर्स डे अपने पिता के साथ घर पर ही मनाने की कोशिश करें। 

फादर्स डे के दिन आप अपने पिता को हैंडमेड तोहफे देकर या फिर उनकी पंसद की कोई चीज बनाकर खुश कर सकते हैं। इसके अलावा घर पर आप केक बनाएं। अपने पापा के साथ गेम खेलें। आजकल की जिंदगी में वैसे तो हर कोई काफी व्यस्त रहता है, ऐसे में हमें ना तो अपने दिल की बातें माता-पिता से शेयर कर पाते और ना ही उनकी सुन पाते हैं। फादर्स डे आप अपने पिता से दिल की हर बात शेयर करें और उनके दिल की भी बाते सुनें। साथ ही उन्हें ये भी बताएं कि आपकी जिंदगी में उनकी क्या अहमियत है। यकीन मानिए बिना महंगे तोहफे दिए ही इन सबसे आपके पिता का फादर्स डे बहुत स्पेशल बन जाएगा। 

Ruchi Mehra
Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

अन्य

लाइफस्टाइल

© 2020 Nedrick News. All Rights Reserved. Designed & Developed by protocom india