NOIDA: इन 17 स्कूलों पर गिरी गाज! बेसिक शिक्षा विभाग ने जारी किया नोटिस, जानें क्या है पूरा मामला?

By Awanish Tiwari | Posted on 17th Aug 2021 | शिक्षा
Noida, Right to education

खतरनाक कोरोना वायरस से मचे कोहराम के कारण पिछले डेढ़ साल से हालात कुछ ठीक नहीं है। स्थिति अब धीरे-धीरे संभलती हुई दिख रही है लेकिन बाजी कब उल्टी पड़ जाए, इसके बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता। कोरोना के खौफ के कारण काफी लंबे समय से स्कूल बंद हैं। बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई चल रही है। 

अब धीरे-धीरे राज्यों में स्कूल खोले जाने लगे हैं। इसी बीच यूपी के नोएडा से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। शिक्षा के अधिकार के तहत गरीब परिवार के छात्रों को प्रवेश देने में स्कूलों की ओर से आनाकानी की जा रही है जिसे लेकर बवाल मचा हुआ है। 

बेसिक शिक्षा विभाग ने उठाया कदम

बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से गरीब परिवार के छात्रों को एडमिशन देने में आनाकानी के मामले में 17 स्कूलों को नोटिस जारी किया गया है। स्कूलों को 18 अगस्त को बेसिक शिक्षा विभाग में उपस्थित रहने का निर्देश दिया गया है। जहां स्कूलों से पूछा जाएगा कि उन्होंने छात्रों को प्रवेश क्यों नहीं दिया। 

दरअसल, गरीब परिवार के छात्रों का प्रवेश शिक्षा का अधिकार के तहत निजी स्कूलों में कराया जाता है। खबरों के मुताबिक इस बार भी ऑनलाइन लॉटरी निकाल कर 3800 से ज्यादा बच्चों को स्कूलों का आवंटन किया गया है। छात्रों के अभिभावक स्कूलों का चक्कर काट रहे हैं लेकिन बच्चों को एडमिशन नहीं मिल पा रहा है। 

बताया जा रहा है कि कई स्कूल तो शिक्षा का अधिकार के तहत एडमिशन लेने के लिए पहुंचने वाले अभिभावक और छात्रों को गेट से ही लौटा देता है। लगातार मिल रही ऐसी शियाकतों के बाद बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से यह बड़ा कदम उठाया गया है।

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी धर्मेंद्र सक्सेना ने स्पष्ट रुप से कहा है कि ‘जो स्कूल शिक्षा का अधिकार के तहत छात्रों को प्रवेश नहीं दे रहे है, उन्हें नोटिस जारी किया गया है। 18 अगस्त को उनसे वार्ता की जाएगी। यदि वह प्रवेश नहीं देंगे तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।‘

इन स्कूलों को जारी हुआ है नोटिस

बताते चले कि नोएडा के जेवर स्थित हैप्पी चिल्ड्रन एकेडमी, ग्रेनो वेस्ट स्थित फ्लोरेंस इंटरनेशनल, नोएडा स्थित स्टेप बाई स्टेप, सेक्टर डेल्टा तीन स्थित केवी वर्ल्ड, सेक्टर ईटा वन स्थित लिटिल स्टार, नॉलेज पार्क पांच स्थित दिल्ली वर्ल्ड पब्लिक स्कूल, ईकोटेक वन स्थित एचएल इंटरनेशनल स्कूल, बरौला स्थित द एसडी विद्या स्कूल, सेक्टर स्वर्णनगरी स्थित जीडी गोयनका पब्लिक स्कूल, सेक्टर ईटा दो स्थित ग्रेड्स इंटरनेशनल स्कूल को नोटिस जारी किया गया है।

इसके साथ ही सेक्टर सिग्मा वन स्थित होली पब्लिक स्कूल, सेक्टर-21 नोएडा स्थित बाल भारती पब्लिक स्कूल, छपरौली खादर स्थित शांति इंटरनेशनल पीजेएच स्कूल, सेक्टर-105 नोएडा स्थित फॉच्यरून वर्ल्ड स्कूल, सेक्टर ओमेगा दो स्थित ग्रेटर वैली स्कूल, सादोपुर की झाल स्थित ब्लू डायमंड पब्लिक स्कूल और सेक्टर-19 नोएडा स्थित मैरीगोल्ड पब्लिक स्कूल को नोटिस जारी कर बेसिक शिक्षा विभाग में बुलाया गया है।

गौरतलब है कि शिक्षा का अधिकार अधिनियम (आरटीई) के तहत आर्थिक रुप से कमजोर लेकिन प्रतिभावान बच्चों को निशुल्क पढ़ाने के लिए सरकार की ओर से स्कूल प्रबंधनों को धनराशि आवंटित कराई जाती है। इसके बावजूद भी वैसे छात्र जिन्हें स्कूलों का आवंटन किया गया है, वह एडमिशन के लिए पहुंचते हैं तो उन्हें स्कूल के भीतर भी नहीं घुसने दिया जाता। मामला सामने आने के बाद बेसिक शिक्षा विभाग कार्रवाई करने में जुटा है।

Awanish  Tiwari
Awanish Tiwari
अवनीश एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करतें है। इन्हें पॉलिटिक्स, विदेश, राज्य, स्पोर्ट्स, क्राइम की खबरों पर अच्छी पकड़ हैं। अवनीश को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। यह नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करते हैं।

Leave a Comment:
Name*
Email*
City*
Comment*
Captcha*     8 + 4 =

No comments found. Be a first comment here!

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2022 Nedrick News. All Rights Reserved.