कोरोना महामारी-लॉकडाउन के बावजूद 2020 में बढ़ा क्राइम, इन राज्यों की कानून व्यवस्था की खुली पोल!

By Ruchi Mehra | Posted on 17th Sep 2021 | क्राइम
ncrb, crime

National Crime Report Bureau यानी NCRB की हाल ही में रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें देश में 2020 में हुए क्राइम की पूरी कुंडली मौजूद है। कहां पर कितने क्राइम हुए। किस राज्य में कितने लोगों की हत्या रिपोर्ट की गई, कहां कितनी अपहरण और रेप की घटनाएं घटी। कौन सा राज्य अपराधों के मामले में किस नंबर पर है...इन सबके बारे में NCRB की रिपोर्ट में बताया गया। 

28 फीसदी बढ़ा क्राइम

2020 के दुष्कंर्म के मामलों पर अगर गौर करें तो रोजाना करीब 77 केस इसके दर्ज किए गए। वहीं इस दौरान हर रोज औसतन 80 हत्याएं हुई। 2020 में कुल 29,193 लोगों की हत्या के मामले दर्ज किए गए। यहां गौर करने वाली बात ये भी है कि साल 2020 तो ज्यादातर कोरोना महामारी और लॉकडाउन की वजह से प्रभावित हुआ। बावजूद इसके अपराध के मामलों में 2019 की तुलना में 28 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई। 

दुष्कर्म के मामलों में टॉप पर राजस्थान

बात सबसे पहले दुष्कर्म की मामलों की करते है। NCRB के आंकड़ों पर गौर करें तो बीते साल दुष्कर्म के 28,046 मामले दर्ज किए गए। राजस्थान इस मामले में टॉप पर रहा। यानी सबसे अधिक दुष्कर्म के केस यही दर्ज हुए। वहीं उत्तर प्रदेश लिस्ट में दूसरे नंबर पर है। देश में साल 2020 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के कुल 3,71,503 केस दर्ज किए गए। ये साल 2019 में 4,05,326 और साल 2018 में 3,78,236 थे। 

NCRB के आंकड़ों के अनुसार दुष्कर्म के सबसे ज्यादा केस 5310 राजस्थान से सामने आए। जबकि उत्तर प्रदेश में 2769 मामले, मध्य प्रदेश में 2339 मामले, महाराष्ट्र में 2061 मामले और असम में 1,657 मामले दर्ज किए गए। बात राजधानी दिल्लीा की करें तो साल 2020 में यहां दुष्क।र्म के 997 मामले दर्ज किए गए। महिलाओं पर क्रूरता के मामलों में 62300 केस अपहरण के थे। 

पिछले साल दहेज की वजह से मौत के 6966 मामले दर्ज हुए। लॉकडाउन की वजह से बीते साल चोरी, डकैती और बच्चों के खिलाफ हिंसा के क्राइम कम दर्ज हुए।

सबसे ज्यादा यूपी में हुई हत्याएं

पिछले साल सबसे ज्यादा हत्याओं के मामले उत्तर प्रदेश में दर्ज हुए। देशभर में 2020 में कुल 29,193 हत्याॉएं दर्ज हुए। इस दौरान उत्तर प्रदेश में सबसे ज्याबदा हत्या के 3779 मामले दर्ज हुए। वहीं इसके बाद लिस्ट में बिहार का नाम शामिल है, जहां हत्या के 3,150 केस आए। महाराष्ट्र में 2163, मध्य प्रदेश में 2101 और पश्चिम बंगाल में 1948 केस दर्ज किए गए। 

अपहरण में भी पहले नंबर पर यूपी

अब बात हम अपहरण की करेंगे। अपहरण के मामलों में 2019 की तुलना में 19 फीसद की कमी पिछले साल दर्ज की गई। 2020 में अपहरण के 84805 मामले रिपोर्ट हुए। अपहरण के मामले में भी यूपी पहले नंबर पर है। यहां 2020 में सबसे ज्यादा 12,913 मामले दर्ज किए गए। इसके बाद लिस्ट में पश्चिम बंगाल है, जहां अपहरण के 9309 केस रिपोर्ट हुए। फिर महाराष्ट्र, बिहार, मध्य प्रदेश और दिल्ली में नाम आते है। 

वहीं NCRB के आंकड़े के अनुसार 2020 में बच्चों और सीनियर सीटिजन के खिलाफ अपराधों, चोरी, सेंधमारी, डकैती और लूट के मामलों में कमी देखने को मिली। वरिष्ठ नागरिकों के खिलाफ क्राइम के मामले में दिल्ली पहले नंबर पर रहा। 

इसके अलावा 2020 में SC/ST के खिलाफ अपराधों में भी बढ़ोत्तरी दर्ज हुई। समुदायों के खिलाफ सबसे ज्यादा क्राइम यूपी और एमपी में रिपोर्ट हुआ। 

Ruchi Mehra
Ruchi Mehra
रूचि एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रूचि पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रूचि को वेब और टीवी का कुल मिलाकर 3 साल का अनुभव है। रुचि नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

Leave a Comment:
Name*
Email*
City*
Comment*
Captcha*     8 + 4 =

No comments found. Be a first comment here!

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2022 Nedrick News. All Rights Reserved.