Gautam Adani फिर हुए मालामाल, क्या उद्योगपति का इंटरव्यू देना लाया रंग ? क्या राजनीति में कूदते दिखेंगे अडानी ?

By Reeta Tiwari | Posted on 14th Jan 2023 | बिजनेस
gautam adani

ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स (Bloomberg Billionaires Index) की रिपोर्ट के अनुसार पिछले साल जहां Tesla कंपनी के मालिक और दुनिया के नंबर एक बिलियनेयर, एलन मस्क (Elon Musk) 133 बिलियन डॉलर के नुकसान के साथ दूसरे पायदान पर आ गए है वहीं भारतीय Industrialists गौतम अडानी (Gautam Adani) की कमाई में 44 बिलियन डॉलर का इजाफा हुआ है और इसी के चलते अडानी इस समय अमीरों की लिस्ट में तीसरे पायदान पर पहुंच चुके हैं।
अगले कुछ हफ्तों में दुनिया के दूसरे सबसे अमीर इंसान बन सकते हैं "गौतम अडानी"

अडानी vs एलन मस्क

इस वक्त दुनिया के तीसरे सबसे अमीर गौतम अडानी (Gautam Adani) अब टेस्ला और स्पेसएक्स सीईओ मस्क को पीछे छोड़कर आने वाले कुछ हफ़्तों में  Bernard Arnault के बाद दूसरे सबसे अमीर शख्सियत बनने वाले हैं वजह ये है कि जब से एलन ने ट्विटर(Twitter) को खरीदा है, उसके बाद से twitter के साथ-साथ Tesla और Space-X के शेयर्स में ऐसी गिरावट आई जिसके चलते एलन मस्क को 133 बिलियन डॉलर का नुकसान हो गया और ये गिरावट का सिलसिला रुकने का नाम ही नहीं ले रहा, अगर इनके शेयर्स में ऐसे ही गिरावट अगले कुछ हफ़्तों तक दिखी तो गौतम अडानी अपने आप दुनिया के दूसरे सबसे अमीर इंसान बन जाएंगे। फिलहाल एलन मस्क की नेटवर्थ 137 बिलियन डॉलर है। फाइनेंशियल एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय बिजनेस टाइकून को मस्क से आगे निकलने और दुनिया का दूसरा सबसे अमीर आदमी बनने में सिर्फ पांच सप्ताह या 35 दिन लग सकते हैं।

गौतम अडानी एशिया के पहले व्यक्ति हैं जो ब्लूमबर्ग के वेल्थ इंडेक्स में इतने ऊंचे स्थान पर हैं। वह उन लोगों की सूची में शीर्ष पर हैं जिनकी संपत्ति में इस वर्ष के दौरान विश्व स्तर पर सबसे ज्यादा बढ़ोतरी देखी गई।'सिक्स्थ ब्लूमबर्ग 50' की रिपोर्ट जो व्यापार, राजनीति, विज्ञान और प्रौद्योगिकी, वित्त और मनोरंजन के क्षेत्र उन लोगों को देखता है, जिनकी उपलब्धियों को मान्यता दी जानी चाहिए और इस आंकलन के आधार पर adani की सम्पति में 49 बिलियन डॉलर की बढ़ोत्तरी हुई है। जिसके चलते उन्होंने बिल गेट्स और वारेन बफेट को पीछे छोड़, दुनिया के सबसे अमीर शख्सियतों की लिस्ट में तीसरा स्थान पा लिया है।भारतीय संचालन और एनडीटीवी मीडिया समूह के अधिग्रहण के साथ वह इस साल सबसे व्यस्त डीलमेकर रहे हैं, रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि, "भारतीय टाइकून की संपत्ति इस साल किसी और की तुलना में अधिक बढ़ी है, जिससे वह बर्नार्ड अरनॉल्ट और एलोन मस्क के बाद दुनिया के तीसरे सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं"

ALSO READ : गौतम अडानी कैसे बने दुनिया के सबसे अमीर भारतीय ?

राजनीतिक पार्टियों ने मोदी सरकार और अडानी पर लगाए आरोप

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और फिलहाल "भारत जोड़ो यात्रा " की अगुवाई कर रहे राहुल गाँधी आए दिन अडानी और मोदी सरकार पर बयान देकर हमेशा अडानी और खुद को सुर्ख़ियों में बनाये रहते है. उनका आरोप है कि अडानी और मोदी मिलकर देश को बेंच रहे हैं जहां मोदी सरकार पोर्ट, हवाई अड्डे, और देश की तमाम बड़ी चीज़ों को अडानी के हाथों बेंचते जा रहें है जिसकी वजह से आज देश भर में महंगाई का ये आलम है कि गरीब सड़क पर आ गए हैं। कांग्रेस प्रेसीडेंट मल्लिकार्जुन से लेकर आम आदमी पार्टी के नेता अरविन्द केजरीवाल लगातार महंगाई और देश बेचने की साजिशों को लेकर आरोप लगाते रहते हैं। राहुल गांधी भी अडानी पर अक्सर भारतीय बैंको से असीमित लोन लेने पर सवाल उठाते रहे हैं। लेकिन हाल ही में NDTV को दिए Interview में अडानी ने इन सभी आरोपों को सिरे से ख़ारिज कर दिया और बताया कि "सफलता का एक मात्र रास्ता है मेहनत, मेहनत और मेहनत। उन्होंने साथ में ये भी कहा कि, बतौर नेता "मै राहुल गाँधी की बहुत इज़्ज़त करता हूँ लेकिन उनके बयानों को पॉलिटिकल स्तर तक ही सीमित रखता हूँ"।

ALSO READ : जानिए एशिया के दो सबसे बड़े अमीर उद्योगपति Gautam Adani और Mukesh Ambani की अपार सम्पति के बारे में!

ADANI के NDTV को दिए इंटरव्यू की कुछ खास बातें 

1. "राहुल गांधी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं, कारोबारी के तौर पर मेरा उन पर टिप्पणी करना अच्छा नहीं है."
2. "कर्ज़ किसी के कहने पर नहीं बल्कि कंपनी की रेटिंग के आधार पर मिलता है."
3. "हम आज 22 राज्यों में काम कर रहे हैं और हर जगह बीजेपी की सरकार नहीं है. हमें कहीं दिक्कत नहीं है."
4. "राहुल गांधी हमारे निवेश की सराहना भी की थी. मेरा मानना है कि राहुल गांधी की नीति विकास के खिलाफ नहीं है."
5. "मोदी जी से आपको किसी भी तरह  निजी मदद नहीं मिल सकती. आप उनसे केवल नीति से जुड़ी बातें कर सकते हैं."
6. "मै NDTV की एडिटोरियल टीम और अपने बीच की लक्ष्मण रेखा को हमेशा याद रखूंगा".


ALSO READ : जानिए भारत में बिकने वाले ये प्रोडक्ट क्यों हैं विदेशों में BAN

इन खास बातों को अगर ग़ौर से देखा जाए तो, अडानी ने ये तो साबित कर दिया कि उनकी तरक़्क़ी के पीछे मोदी सरकार नहीं बल्कि उनकी और उनके टीम की अपनी मेहनत है और साथ ही कहीं न कहीं ये भी संकेत दिए की राजनीतिक नेता अपनी पार्टी की अच्छाई के लिए किसी पर भी कुछ भी बयान दे देते हैं इसलिए उनकी बयानबाज़ी को पॉलिटिक्स तक ही सीमित रखना ही ठीक है।


खैर आप अडानी के इन बयानों और इनकी तरक्की को किस नजरिये से देखते हैं। हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं।

Reeta Tiwari
Reeta Tiwari
रीटा एक समर्पित लेखक है जो किसी भी विषय पर लिखना पसंद करती है। रीटा पॉलिटिक्स, एंटरटेनमेंट, हेल्थ, विदेश, राज्य की खबरों पर एक समान पकड़ रखती हैं। रीटा नेड्रिक न्यूज में बतौर लेखक काम करती है।

Leave a Comment:
Name*
Email*
City*
Comment*
Captcha*     8 + 4 =

No comments found. Be a first comment here!

अन्य

प्रचलित खबरें

© 2022 Nedrick News. All Rights Reserved.